सिसु को जानना

SISU की स्थापना 1949 में हुई और वह हमेशा ऐसे स्नातक तैयार करने में लगा है, जो वैश्विक दृष्टि, इंसानियत, पहल करने की हिम्मत, व्यावहारिक क्षमता और विदेशी भाषा विशेषज्ञता से संजोए हुए हों, ताकि वे विभिन्न संस्कृतियों के बीच पुल बांध सकें और भविष्य-उन्मुख विश्व नागरिक बन सकें।

SISU की स्थापना 1949 में हुई और वह हमेशा ऐसे स्नातक तैयार करने में लगा है, जो वैश्विक दृष्टि, इंसानियत, पहल करने की हिम्मत, व्यावहारिक क्षमता और विदेशी भाषा विशेषज्ञता से संजोए हुए हों, ताकि वे विभिन्न संस्कृतियों के बीच पुल बांध सकें और भविष्य-उन्मुख विश्व नागरिक बन सकें।

हमारे परिसर

सिसु के दो परिसर हैं, यानी होंगखऊ परिसर और सोंगच्यांग परिसर। दोनों परिसर एक ही परंपरा शेयर करने के साथ साथ अपनी अपनी विशेषताएं भी बनाये रखते हैं।

Baidu
map